Aquaponics Farming Kya Hai | India Me Aquaponics Farming Kaise Kare?

Aquaponics Farming Kya Hai | India Me Aquaponics Farming Kaise Kare?

हम सबको पता है कि भारत देश एक कृषि प्रधान देश और यहाँ पर बहुत ऐसे हिम्मत वाले किसान है जो नयी नयी तकनीक निकालते रहते है। हालांकि पूरे देश में ऐसे मात्र 10 किसान है जो Aquaponics अक्वापोनिक्स बिज़नेस आइडियाज के ऊपर काम कर रहे है। आज इस से सम्बंधित मै हर एक बात आप से शेयर करने वाला हु। तो चलिए जान लेते है कि  अक्वापोनिक्स फार्मिंग क्या है ( Aquaponics Farming Kya Hai) और इसे कैसे किया जाता है, इसमें लागत कितना लगता है और मुनाफा कितना होता है।

Aquaponics Farming Kya Hai | Aquaponics फार्मिंग क्या है? 

एक्वापोनिक्स फार्मिंग में मछलियों के साथ पौधे उगाये जाते है। यह हाइड्रोपॉनिक्स फार्मिंग के जैसा ही थोड़ा बहुत है। इसमें भी मिटटी का उपयोग बिलकुल भी नहीं किया जाता है। वही आपको एक्वापोनिक्स के फार्मिंग में भी मिटटी देखने को नहीं मिलता है या कहे तो मिटटी का उपयोग एक्वापोनिक्स फार्मिंग में बिलकुल भी नहीं किया जाता है।

इसमें छमता अनुसार बड़े बड़े फिश टैंको का इस्तेमाल किया जाता है और इसी फिश टैंक में मछलियों के साथ पौधों को भी उगाया जाता है। इसमें साधारण खेती के तुलना में पानी का मात्र 10 प्रतिशत ही इस्तेमाल होता है। जबकि पौधों को पानी के द्वारा पोषक तत्व मिलते रहते है और इनकी बढ़ने की रफ़्तार मिटटी के पौधों से दोगुनी होती है। बाहर देशो में इसका काफी ज्यादा चलन हो चुका है। इसका सबसे ज्यादा चलन इजराइल में है। अब तो अमेरिका और यूरोप में भी इसका इस्तेमाल लोगो के द्वारा किया जाने लगा है।

Aquaponics की शुरुआत किसने की?

इसकी शुरुआत करने वाले का नाम Dr. James Rakocy है। उन्होंने ही Aquaponics फिश फार्मिंग आइडियाज को सन 1970 में डिज़ाइन किया था। उन्होंने एक साथ फिश और सब्जी उगाने के तरीको को नया पंख दिया। Dr. James Rakocy, Auburn University, Alabama में PhD किये थे। वो एक ऐसे सिस्टम की खोज कर रहे थे जिसमे वो एक साथ मछली और पौधों दोनों को ग्रो कर सके।

उन्होंने ऐसे तत्व की खोज की जहा मछली के साथ पौधों को उगाने का एक पारिस्थितिकी तंत्र का निर्माण किया जहां मछली से पोषक तत्व पौधों के लिए उर्वरक प्रदान करते थे, जबकि पौधे मछली द्वारा उत्सर्जित सभी अपशिष्ट नाइट्रोजन और फॉस्फोरस को अवशोषित करते थे, जिससे पानी क्रिस्टल स्पष्ट और शैवाल से मुक्त रहता था।

Dr. James Rakocy Photo

Paster you code here ( Down setting will be same)
Dr James Rakocy
Dr James Rakocy

Aquaponics Farming कैसे होती है? 

Aquaponics Kya Hai

Aquaponics फार्मिग के अंतर्गत एक बड़े टैंक में मछलियों का पालन किया जाता है और दूसरी तरफ पानी पर हाइड्रोपॉनिक खेती का सिस्टम बनाया जाता है। फिश टैंक में मछलिया जो अपना खाना खाती है उसका 70 प्रतिशत के करीब मल के रूप में बाहर निकल जाता है, जिसमे अमोनिया का मात्रा ज्यादा होता है।

अगर ये मल ( अमोनिया ) अगर फिश टैंक में पड़ा रहता है तो ये आपके मछलियों के लिए जानलेवा साबित हो सकता है। इसी अमोनिया वाले पानी को हाइड्रोपॉनिक खेती के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

जब यही पानी पौधों के जड़ तक पहुँचता है तो वह जड़ो में मौजूद बैक्टेरिया इसे नाइट्रोज़न में बदल देती है जो पौधों के लिए बहुत ही अहम् होता है। इसके बाद वाटर फ़िल्टर के मदद से पानी को प्यूरिफाई कर दिया जाता है और दोबारा इसे मछली के टैंक में मोटर के मदद से डाल दिया जाता है।

इस तरह एक ही पानी का कई बार इस्तेमाल होता रहता है जिसे एक ही टाइम में लाखो लीटर पानी की बचत होती है। हालांकि एक नियमित समय पर टैंक के पानी को बदलना पड़ता है। इसी मछली के टैंक में पानी के ऊपर 100 प्रतिशत शुद्ध और खाद रहित सब्जिया उगाई जाती है।

Aquaponics फार्मिंग में कितना खर्चा और मुनाफा होता है? ( Aquaponics Expenses )

अगर आप Aquaponics बिज़नेस छोटे पैमाने पर करना चाहते हो तो तब भी आप इसे कर सकते हो, लेकिन छोटे के हिसाब से इसका लागत ज्यादा हो जाएगा। वैसे यह एक महगा बिज़नेस है जिसे करने के लिए आपके पास मोटा रकम होना चाहिए।

अगर आप एक एकड़ में Aquaponics Fish Farming करना चाहते है तब आपको करीब 2.5 से 3 करोड़ तक खर्च करने पड़ सकते है। इसको बनाने में ही आपका ज्यादा खर्चा आता है क्योकि मशीनों से लेकर मछली तक सब आपको खरीदना पड़ेगा। इसके लिए आपके पास 24 घंटे बिजली उपलब्ध रहना चाहिए। क्योकी Aquaponics  फार्मिंग में सब कुछ लाइट पर ही दारोमदार रहता है। अगर आधे घंटे भी बिजली चली जाती है तब उस टाइम आपको लाखो रुपये का नुकसान उठाना पड़ सकता है। इसलिए जो भी उपकरण लगवाए सबसे अच्छा ही लगवाए जिससे आपको नुक्सान उठाने की नौबत ही न आये। एक एकड़ में AQUAPONICS की खेती के लिए रोजाना करीब 600 यूनिट बिजली की ज़रुरत पड़ती है। सरकार आपको 75 फीसदी अनुदान के रूप में पैसा देती है। ऐसे में आपका खर्चा कम हो जाता है।

Aquaponics फार्मिंग में कितना मुनाफा होता है? ( Aquaponics Farming Profit? ) 

Aquaponics Kya Hai
Image Source: Google

AQUAPONICS Farming Kya hai हमने जाना अब AQUAPONICS Farming से हम मुनाफा कितना कमा सकते है। वैसे इसमें खर्चा दूसरे बिज़नेस के मुकाबले ज्यादा है लेकिन मुनाफा भी बहुत ज्यादा है इसलिए भारत में अभी बहुत से लोग AQUAPONICS Farming करने की शुरुआत कर चुके है और अच्छा मुनाफा भी कमा रहे है।

लेकिन याद रहे AQUAPONICS फार्मिंग में मुनाफा आपको तभी होगा जब आप क्वालिटी वाली प्रोडक्ट रखेंगे या उपजायेंगे। Aquaponics खेती से जितनी भी चीजे पैदा होती है वो सभी सौ फीसदी आर्गेनिक होती है। यानी इसमें किसी भी प्रकार के खाद या कीटनाशक दवा का उपयोग न करते हुए इसकी पैदावार की जाती है। इसी वजह से इसकी मांग मार्किट में दुसरे सब्जियों के मुकाबले ज्यादा रहती है और आपको इसका रेट भी अच्छा मिल जाता है।

इसमें ध्यान देने योग्य बाते ये है कि आप अपनी मार्किट Aquaponics फार्मिंग लगाने से पहले ही देख ले जिससे आप सब्जी निकलने के बाद डायरेक्ट पंहुचा सके और आप लाभ कमा सको।

अगर आप ऐसा नहीं कर पाते हो और आपका सब्जी रुक जाता है तब आपको भारी नुकसान उठाना पढ़ सकता है। इसी लिए आपको पहले अपना मार्किट देख लेना चाहिए जहा आपको सब बेचना है।  शुरुआत के दिनों में आपका सबसे बड़ा मित्र बन सकते है वो है होटल, रेस्टोरेंट।  क्योकि बड़े बड़े होटलो में आर्गेनिक सब्जियों की मांग बहुत रहती है और यहाँ पर आपको रेट भी अच्छा मिल जाता है। आप उनसे आर्गेनिक प्रोडक्ट के लिए कॉन्ट्रैक्ट भी कर सकते है।

टिप्स : Aquaponics फार्मिंग बिज़नेस शुरू करने से पहले आप अपना बाजार अवश्य देख ले जिससे आपको बाद में अपना फसल बेचने में कठिनाई न हो। 

  • इस खेती में सबसे बड़ा फायदा पानी बचत है। इसमें करीब 95 फीसदी तक पानी की बचत होती है
  • Aquaponics फार्मिंग में मछलियों के मल से ही पौधों को न्यूट्रिशन या खाना मिलता है। इसमें किसी भी प्रकार के कैमिकल का उपयोग नहीं किया जाता है। ऐसे में उगाई गयी ससारी सब्जिया पूरी तरह से पोषक तत्वों से भरपूर होती है।
  • पूरे दुनिया में जहा भी पानी की बेहद कमी हो वहा पर आप इस खेती को आसानी से कर सकते है।
  • गैर खेती योग्य ज़मीन जैसे पथरीली, रेगिस्तान, बर्फीली भूमि पर भी आसानी से Aquaponics Farming कर सकते है।

Aquaponics Farming की कमजोरियां क्या क्या है ? Aquaponics Farming Weakness?

किसी भी सिक्के के दो पहलू होते है। FAO के रिपोर्ट के आधार पर हम Aquaponics के कमजोरी को आपको बताने वाले है, तो चलिए जान लेते है कि Aquaponics की कमजोरी क्या क्या है जिसे आपको फार्मिंग करने के टाइम ध्यान रखना है।

  1. अगर हम हाइड्रोपोनिक या मिटटी के खेती से इसकी तुलना करे तो दोनों के मुकाबले इसमें बहुत ज्यादा शुरूआती पूजी लगाना पड़ता है। Aquaponics  की सबसे बड़ी कमज़ोरी यही है।
  2. इसको करने में किसान को काफी जानकारी जुटाने की ज़रुरत होती है, सिर्फ आपको खेती करने की जानकरी इकठ्ठा करने से आप इस फार्म को नहीं चला सकते है, इसमें आपको मछलियों के बारे में पूर्ण जानकारी इकठ्ठा करना होता है।
  3. इसके साथ साथ आपको टेक्निकल स्किल भी थोड़े बहुत आने चाहिए
  4. अगर आप Aquaponics में थोड़ी सी भी गलती करते हो उसके तुरंत बाद ही आपको साइड इफ़ेक्ट देखने को मिलने लगता है
  5. किसी भी गलती को आप जल्द से जल्द पकड़ने की कोसिस करे अन्यथा आप एक बहुत बड़े मुसीबत में पड़ सकते है
  6. आपको मछलियों का खाना हमेशा स्टॉक में रखना पड़ता है।

Aquaponics Farming में ध्यान देने योग्य बातें 

इसमें आपको कुछ बाते हमेशा ध्यान देने योग्य है, अगर आप इन सब बातो को हमेशा अपने दिमाग में रखते है तब आप इस बिज़नेस में सफल हो सकते है –

  • हवा का तापमान
  • पानी का तापमान
  •  पौधों को मिलने वाले नाइट्रोजन की मात्रा
  • लाइट
  • इसमें तापमान को 17-34 डिग्री तक कण्ट्रोल रखना पड़ता है वरना पौधों में समस्या आ सकती है।
  • Aquaponics खेती में मछलियों के मल से ही पौधों को नुट्रिशन मिलता रहता है इसमें किसी भी तरीके का रसायन इस्तेमाल नहीं होता है। इस तकनीक से उगाई गयी सब्जिया पूरी तरह से आर्गेनिक यानि केमिकल रहित होती है।

Aquaponics Farming में कौन कौन सब्जियां उगाई जाती है? 

इस फार्मिंग में उगाने जाने वाली सब्जी थोड़ा महगा होता है, ऐसा इसलिए क्योकि Aquaponics Farming Business Idea विदेशो से भारत में आया है। लेकिन भारत में इसका भविष्य शानदार देखा जा रहा है। इस तकनीक में उगाई जाने वाली सब्जिया जैसे ब्रोकली और लेट्स प्रमुख है। इन सब्जियों का उपयोग प्रायः सलाद और बर्गर में उपयोग किया जाता है. इसके अलावा औषद्धि पौधे, अश्वगंधा और गुलाब भी उगा सकते है।

Aquaponics Farming को लेकर हमारा सोच क्या है? 

देखिये अगर आप Aquaponics Farming Business Ideas के ऊपर काम करना चाहते है और आपके पास अच्छा बजट है, जोखिम उठाने की हिम्मत आपके अंदर है, थोड़ा बहुत टेक्निकल है मछलियों और पौधों के बारे में जानकारी है तब आप इस बिज़नेस को कर सकते है।

इसे भी पढ़ लो – खरगोश पालन का बिज़नेस कैसे करे?

आशा करता हु आपको हमारा पोस्ट  “AQUAPONICS Farming Kya hai” अच्छा ज़रूर लगा होगा। अगर हमारे बात से सहमत है तो कृपया करके अपने दोस्तों को शेयर ज़रूर करे। आशीर्वाद लगेगा आपको।

Paster you code here ( Down setting will be same)

Leave a Reply

You are currently viewing Aquaponics Farming Kya Hai | India Me Aquaponics Farming Kaise Kare?
Paster you code here ( Down setting will be same)