कबाड़ का बिज़नेस कैसे करे? Kabad Ka Business Kaise Kare In Hindi

कबाड़ का बिज़नेस कैसे शुरू करे, कबाड़ का धंधा कैसे स्टार्ट करे, लाइसेंस, भाव, दूकान, रेट, कितना लागत लगेगा, लाभ कितना होगा और इसमें कितने जोखिम है. (Kabadi License, Shop, Dukaan, Investment, Profit, Risk, Garbage Collection Business Ideas, Kabad Ka Busienss kaise Kare in Hindi) 

हर किसी के घर में छोटे सामान से लेकर बड़े सामान तक होते है जिसे हम अपने रोज के उपयोग में लाते है. लेकिन जब आपका कोई सामान खराब हो जाए और आप उसे बनवाने की बहुत कोसिस की हो लेकिन वो बना न हो तब उसे हम या तो घर के एक कोने में फेक देते है और उसके जगह पर नया सामान लाकर इस्तेमाल करने लगते है।

लेकिन यही सामान जो आप अपने घर में फेक कर रखे है वही कुछ लोगो के लिए सोने से कम नहीं होता है। इसी को हम भंगार या कबाड़ बोलते है जो या तो हमारे किसी काम का नहीं है या उसको उपयोग करने वाला बंदा उसे उपयोग नहीं करना चाहता हो।

यही कबाड़ कई लोगो के लिए उनकी आमदनी का जरिया है सिर्फ आमदनी ही नहीं कई लोग कबाड़ का धंधा करके इतने आगे बढ़ चुके है जिसके बारे में आप सोच भी नहीं सकते।

 देश के सबसे बड़ा कबाड़ी कौन है? India Ka Sabse Bada Kabadi

कबाड़ के बिज़नेस को बहुत से लोग छोटा मानते है क्योकि ये कबाड़ का बिज़नेस है, इसमें आपको छोटे से लेकर बड़े कचरे तक सब छटनी करनी पड़ती है (अपने अपने कबाड़ बिज़नेस के हिसाब से ). बोले तो थोड़ा मैला वाला काम है इसलिए इस धंधे को काफी काम लोग करना पसंद करते है।

अगर मै आपको ये बता दू की भारत के सबसे बड़े कबाड़ का बिज़नेस करने वाले वेदांत ग्रुप के मालिक अनिल अग्रवाल है जो भारत के पांचवे सबसे अमीर है. इन्होने अपना शुरुआत का बिज़नेस कबाड़ के व्यापार से ही किये थे।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी कबाड़ के बिज़नेस से ही अरबो रुपये कमाते है, पूना के रहने वाले घोड़ो के व्यापारी हसन अली का पहले कबाड़ का बिज़नेस था।

इसलिए हमने कबाड़ के बिज़नेस को छोटा बिज़नेस नहीं समझना चाहिए। जब आप किसी भी बिज़नेस को दिल से करोगे तब आपको हर एक बिज़नेस में तरक्की मिलेगी चाहे वो Reselling Business हो, Rabbit Farming सबसे लेटेस्ट बिज़नेस Aquaponic Farming हो। चलिए हम आपको पकाना बंद करते है और बात करते है की कबाड़ का बिज़नेस कैसे शुरू करे।

अपने घर में जिओ फाइबर लगवाए 

तो चलिए जान लेते है वो सब बाते जो आप बहुत बेसब्री से इंतज़ार कर रहे है पढ़ने के लिए।

कबाड़ का व्यापार क्या है? Kabad Business Kya Hai?

कोई भी वस्तु या सामान जो हमारे और आपके किसी काम का न हो चाहे वो लोहे का हो, प्लास्टिक का हो या कोई बड़ा मशीन हो सब को हम कबाड़ कहते है।

जब हम कोई सामान खरीदते है और वो कुछ दिन में टूट फुट या तो खराब हो जाती है जब तो इसे कबाड़ का नाम दिया जाता है और इसे हम कबाड़ खरीदने वाले को बेच देते है इसके बदले में हमें कुछ पैसे मिल जाते है।

कुछ वस्तुये ऐसी होती है जिसे हम रिपेयर करवाने मकैनिक के पास लेके जाते है और वो चेक करने के बाद आपसे कहता है की

“भैया ये अब नहीं बनेगा इसे किसी भंगार वाले के हाथ बेच दो”

और आप किसी कबाड़ी या भंगार वाले से अपना खराब सामान बेच कर कुछ पैसे ले लेते है। जितनी भी ख़राब सामान होते है उसे कबाड़ी वाला खरीद लेता है और जब उसके पास ज्यादा कबाड़ हो जाता है तब वो किसी बड़ी रीसाइकिलिंग कंपनी को बेच देता है जिसे वो लोग रीसाइकिलिंग करके नयी नयी सामान बनाते है। इस तरह से पैसे के साथ साथ वातावरण भी साफ रहता है और गन्दगी नहीं फैलती है। इसी को ही हम कबाड़ का बिज़नेस या व्यवसाय कहते है।

कबाड़ का व्यवसाय कैसे शुरू करे ? Kabaad Ka Business Kaise Start Kare?

कबाड़ का नाम जब जुबान पर आता है तब आप के दिमाग में बहुत कुछ घूमने लगता होगा। आप यही सोचते होंगे की आखिर कबाड़ से कितना कमा सकता है, ज्यादा से ज्यादा वो अपना और अपने परिवार का पेट पाल सकता है, लेकिन यहाँ पर आपकी सोच गलत है, ऐसा मै इसलिए कह रहा हु क्योकि कबाड़ी का धंधा वर्तमान समय में काफी फल फूल रहा है. अगर मै ये कहू कि कबाड़ी का धंधा करके बहुत से लोग लखपति और करोड़पति तक बन गए है तो सायद आप मेरे बात पर यकीन नहीं करेंगे लेकिन ये सत्य है।

आज के दौर में कबाड़ी का बिज़नेस एक प्रॉफिटेबल बिज़नेस के तौर पर उभर रहा है और आजकल तो पढ़े लिखे लोग भी कबाड़ी बिज़नेस में अपना हाथ आज़मा रहे है।

Scrap में क्या क्या खरीदा जाता सकता है?

कबाड़ के रूप में आप अनेको तरह की चीज खरीदी जा सकती है जिसमे लोहा, पीतल, प्लास्टिक, रद्दी पेपर, गट्टे, टीन, कांच, अल्मुनियम, फर्नीचर, कूलर, पंखे, लैपटॉप, सीपीवो, कीबोर्ड, मॉनिटर, पुराने कपडे, इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम। 90% तक की चीज आप भंगार या कबाड़ के रूप में खरीद सकते हो।

लेकिन इसमें आपको ये निश्चित करना है की आपको किस टाइप के कबाड़ का बिज़नेस करना चाहते है। आप सेकंड हैंड सामान भी बेच सकते है, ये भी कबाड़ बिज़नेस में आता है। लेकिन इस बिज़नेस में आपको थोड़ा पैसो की ज़्यादा ज़रुरत पड़ेगी।

इसके अलावा वो डिमांड के अनुसार वो आपके घर से कबाड़ को भी खरीदता है, परन्तु आपको बता दे कि, कबाड़ के तौर पर सबसे ज्यादा लोहे से बानी हुई चीजों की ही डिमांड होती है क्योकि कम्पनिया इनको बड़े बड़े भट्ठी में गलाकर फिर से नए प्रोडक्ट बनती है और फिर उसी सामान को हमारे बीच नए का पैसा लेकर बेचती है।

कबाड़ का बिज़नेस कैसे किया जाता है

कबाड़ी का बिज़नेस आप कई तरीको से कर सकते है हमने कुछ तरीके नीचे बता रखे है जो निम्लिखित है –

  • सबसे पहले एक छोटा कबाड़ी आपके घर पर आकर आपसे कबाड़ खरीदता है।
  • छोटे कबाड़ी उन कबाड़ो को इकठ्ठा करके कबाड़ी की दूकान पर बेचते है फिर वही वयक्ति उन कबाड़ो को ज्यादा मात्रा में इकठ्ठा करके ट्रक्स में भर कर अपने से बड़े कबाड़ी वाले को या फिर सीधा Recycling Company को बेच देता है।
  • इस प्रकार से पहली बार जब आप कबाड़ी वाले को अपना सामान बेचते है तब वो आपको खराब सामान के बदले आपको कुछ पैसे देता है, जो आदमी आपसे कबाड़ खरीद कर ले जाता है वो आगे जाके अपने से बड़े व्यापारी को कबाड़ बेच देता है, इस प्रकार से उस कबाड़ी वाले की भी इसमें कमाई हो जाती है।
  • और जब बड़े कबाड़ी वाला अपने से बड़े कबाड़ी को बेचता है या फिर इसी कबाड़ को किसी कंपनी को बेचता है तब इसकी भी कमाई हो जाती है।

इस प्रकार इस धंधे में जितने भी लोग है यानी ऊपर से लेकर नीचे तक सबकी रोजी रोटी चलती रहती है।

कबाड़ के बिज़नेस को करने के लिए कितना लागत लगता है? Investment For Scrap Business

कबाड़ के बिज़नेस को करने के लिए आपको कितनी लागत लगानी पड़ेगी इसके बारे में भी आपको पहले से जाना बेहद ज़रूरी हो जाता है. वैसे कबाड़ बिज़नेस में जो भी लागत आपकी लगेगी वो आपके बिज़नेस के ऊपर निर्भर करता है।

अगर आप कबाड़ बिज़नेस को छोटे स्तर पर करते है तब आपको कम लागत लगानी पड़ेगी। वैसे इसमें लगने वाली जो लागत है वो निम्न हो सकती है –

  1. अगर दूकान आपको खुद की है, तो आपको उसका मासिक भाड़ा नहीं देना होगा, वही अगर आप दूकान को भाड़े पर लेते हो तब आपको महीने के लगभग ₹20,000 से ₹30,000 के आसपास देना पड़ सकता है। कबाड़ी के बिज़नेस में भाड़ा इसलिए ज्यादा रहता है क्योकि इसमें आपको बड़ी दूकान की ज़रूरत होती है।
  2. अगर आपके पास माल धोने के लिए ट्रक या छोटे वाहन है तब तो आपका बहुत पैसा बचने वाला है अगर नहीं है तब आपको दूरी के हिसाब से माल धोने का भाड़ा भरना पड़ेगा।
  3. अगर अन्य छोटे मोटे खर्चे की बात करु तो इसमें आपका इलेक्ट्रिसिटी खर्चा, पानी बिल, कबाड़ के वजन करने के लिए बड़े इलेक्ट्रॉनिक्स कांटा, दुकान का फर्नीचर आदि शामिल है।
  4. एक कबाड़ी का बिज़नेस करने के लिए आपको ₹5,00,000 तक इन्वेस्टमेंट पड़ सकता है। हलाकि कबाड़ी बिज़नेस इन्वेस्टमेंट आपके छोटे बड़े बिज़नेस के ऊपर भी डिपेंड करता है।

कबाड़ बिज़नेस के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन

Paster you code here ( Down setting will be same)
कबाड़ का बिज़नेस
कबाड़ का बिज़नेस

जब आपके पैसा कबाड़ का बिज़नेस करने के लिए फण्ड इकठ्ठा हो जाए, और आपकी सभी तैयारी हो जाए, इसके बाद आपको Kabad Ka Business के लिए लाइसेंस लेना होता है और अपने Kabad ke Business के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना होता है। ये सब प्रक्रिया जब आपकी पूरी हो जाए तब आप बिना किसी नोक झोंक के Kabad Ka Business चालू कर सकते है।

Kabad Business के लिए ज़रूरी दस्तावेज़

अगर आप छोटे लेवल पर कबाड़ का बिज़नेस करते है तब आपको किसी भी प्रकार की कागज़ी कार्यवाही नहीं करनी पड़ती है, लेकिन आप थोड़े से बड़े लेवल पर इस बिज़नेस को करते हो तब आपको नीचे लिखे कुछ डाक्यूमेंट्स की आवश्यकता होती है।

  1. पहचान पत्र :- जैसे आधार कार्ड, वोटर कार्ड, पैन कार्ड
  2. एड्रेस प्रूफ:- आपके घर का लाइट बिल, राशन कार्ड
  3. पासबुक के साथ आपका बैंक अकाउंट
  4. आपका चलता मोबाइल नंबर
  5. जीयसटी रजिस्ट्रेशन नंबर
  6. 4 पासपोर्ट साइज की फोटो
  7. वर्किंग ईमेल आईडी
  8. NOC आदि

कबाड़ के बिज़नेस में कुछ बातो का ध्यान रखे-

  1. किसी एक चीज के कबाड़ खरीदी का बिज़नेस करे
  2. माल खरीदी के बाद उसकी छटाई ज़रूर करे, जो बनने लायक है उसको बना कर मार्किट में सेल करे इससे अच्छा बेनिफिट मिलेगा।
  3. चोरी का कबाड़ बिलकुल भी न खरीदे, ये आपके लिए परेशानी बन सकता है। ऐसे बहुत सारे केसेस हमने देखे है जिसमे गेहू के साथ साथ घुन भी पिस गया है।

कबाड़ के बिज़नेस के लिए ज़मीन

जिस हिसाब से आप कबाड़ का बिज़नेस करते है उसी हिसाब से आपको ज़मीन की भी ज़रुरत पड़ेगी। अगर आप बड़े स्तर पे कबाड़ का बिज़नेस करते है तब आपको 500 स्क्यायर फ़ीट से लेकर 600 स्क्यायर फ़ीट तक की दुकान की ज़रुरत पड़ेगी, वही अगर आप छोटे स्तर पर करना चाहते है तब आपको 200 स्क्यायर फ़ीट से लेकर 300 स्क्यायर फ़ीट के दुकान की ज़रूरत पड़ेगी। वही अगर आप एक डैम बड़े स्तर पर Kabadi Business करना चाहते है तब आपको 700 स्क्यायर फ़ीट से लेकर 1000 फ़ीट स्क्यायर फ़ीट तक के गोदाम की ज़रुरत पड़ेगी, क्योकि बड़े स्तर के बिज़नेस में आपको कबाड़ को स्टोर करने के लिए ज्यादा जगह की ज़रूरत पड़ेगी।

कबाड़ बिज़नेस के लिए लोकेशन का चयन

कबाड़ बिज़नेस के लिए आपको ऐसी लोकेशन का चयन करना चाहिए जहा पर पक्के सड़क हो, ट्रांसपोर्टेशन की अच्छी सुविधा हो, बिजली की कटौती कम से कम हो और पानी की भी सुविधा हो।

इसके अलावा उस एरिया में कितने कबाड़ी के दुकाने है, वो कौन सा माल खरीदते है और बेचते है, और वो छोटे कबाड़ियों से कितने दाम में माल लेते है।  जहा तक आप ये कोसिस कीजिये की कबाड़ का दुकान रोड के अगल बगल ही हो ताकि आने जाने वाले लोगो के नज़रो में आपका दुकान बना रहे।

कबाड़ के बिज़नेस में फायदा ( Kabad Business Profit )

अगर आप कबाड़ के बिज़नेस में महारत हासिल कर लेते है तब आप इसमें जितना चाहे उतना मुनाफा कमा सकते है, क्योकि इस बिज़नेस में दुसरे बिज़नेस के मुकाबले लाभ जाता रहता है।

कबाड़ के बिज़नेस में फायदा आपके बिज़नेस के ऊपर भी निर्भर करता है, अगर आपका बिज़नेस छोटे लेवल पर है तब आपको काम मुनाफा होगा और अगर वही बिज़नेस लेवल पर करते है तबी उसी हिसाब से आपको फायदा भी होगा। कबाड़ के बिज़नेस से कुछ लोग महीने के लाखो कमा रहे है और कुछ लोग तो ऐसे है जो कबाड़ के बिज़नेस से करोड़ो कमा रहे है।

कबाड़ के बिज़नेस में नुकसान

दुनिया का ऐसा कोई बिज़नेस नहीं है जिसमे आपको सिर्फ फायदा ही हो, उसमे नुकसान न हो। जहा तक मैं जनता हूँ ऐसा कोई भी बिज़नेस नहीं है जिसमे सिर्फ आपको फायदा मिले। हालांकि कुछ बिज़नेस में कम नुक्सान होता है किसी में बहुत ज़्यादा।

कबाड़ के बिज़नेस में नुक्सान बहुत ही कम होता है क्योकि ये बिज़नेस साल के पूरे 12 महीने आपको कमा के देता है। इस बिज़नेस में नुक्सान वही लोग उठाते है जो कबाड़ का मार्किट रेट बिना पता किये ही ज्यादा दामों में कबाड़ उठा लेते है इसलिए आपको रोजाना कबाड़ का रेट भी जानते रहना चाहिए।

कबाड़ बिज़नेस से सम्बंधित सवाल और जवाब – Kabadi FAQ

Q- कबाड़ में क्या क्या लोग खरीदते है?

Ans- लोहा, टीना, प्लास्टिक, तेल का टिन, गत्ता, पंखा, कूलर, रद्दी पेपर और भी कई चीज खरीदते है।

Q- कबाड़ का बिज़नेस क्या है? 

Ans- कबाड़ का बिज़नेस आपके घर के टूटे फूटे और पुराने सामान को खरीदकर दूसरी जगह बेचना कहलाता है।

Q- कबाड़ के बिज़नेस में क्या क्या लागत लगती है?

Ans- आपके बिज़नेस के ऊपर डिपेंड करता है, अगर आप छोटे लेवल पर कबाड़ का बिज़नेस करते है तब आपको कम लागत लगनी पड़ेगी, वही अगर आप बड़े लेवल पर करते है तब आपको 5 लाख तक या उससे ज्यादा लगनी पड़ सकती है।

Q- कबाड़ के बिज़नेस में कितना मुनाफा होता है? 

Ans– इसमें आप महीनो के लाखो कमा सकते है।

Q- कबाड़ के बिज़नेस में क्या लाइसेंस लेने की ज़रुरत पड़ती है?

Ans– जी हां, अगर आप इसे बड़े लेवल पर करते है तब आपको लाइसेंस लेने की ज़रुरत पड़ती है।

 

निष्कर्ष

मेरे ख्याल से आपको Kabad Business Idea या कबाड़ का बिज़नेस से सम्बंधित सारे सवालो के जवाब आपको  मिल गए होंगे।  अगर आप कबाड़ का बिज़नेस करन चाहते है तो आपको रीसाइक्लिंग सेण्टर का भी आपको पता कर लेना चाहिए जिससे आपका कबाड़ आसानी से बिक सके।

 

Paster you code here ( Down setting will be same)

Leave a Reply

You are currently viewing कबाड़ का बिज़नेस कैसे करे? Kabad Ka Business Kaise Kare In Hindi
Paster you code here ( Down setting will be same)